Puri Beach in Puri

Puri Beach – भारत के पूर्वी समुद्री तटों में से एक समुद्री तट पूरी बीच है, यह बंगाल की खाड़ी की सीमा से जुड़ी हुई है, माना जाता है कि भारत के बेहतरीन समुद्री तटों में से एक समुद्री तट पुरी बीच है। यह सूर्य मंदिर से लगभग 35 किलोमीटर दूरी पर स्थित है, जिसकी वजह से इसके आसपास कई सारे पर्यटक स्थल है।

पुरी बीच जहां पर सूरज के चमकते रोशनी पानी पर देखने को मिलती हैं, यह एक एकांत स्थल है, यहां वह लोग छुट्टी मनाने आते हैं जो एकांत की तलाश करते हैं। इसके अलावा धार्मिक रूप से भी यहां लाखों की आबादी में लोग शुद्धिकरण स्नान करने आते हैं, जो भगवान जगन्नाथ को श्रद्धांजलि देते हैं।

यह स्थल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी प्रचलित है जिसकी वजह से हर वर्ष लाखों की आबादी में लोग यहां पर्यटन करने आते हैं, इसके अलावा यह स्थान प्रसिद्ध रेत कलाकार सुदर्शन पट्टनायक द्वारा बनाई गई प्रेत की मूर्तियों के लिए भी लोगों के बीच प्रसिद्ध है। सभी मूर्तियां मंदिर की दीवारों तथा अन्य पौराणिक चित्रण को दर्शाती है।

Puri Beach हमेशा से ही अपने सुनहरे रेत, तेज लहरें और शांत वातावरण के लिए प्रसिद्ध है। इसके अलावा यहां कई सारे ऐसे स्थान हैं जिन्हें देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। यहां की जीवन शैली, खानपान, त्यौहार, परंपरा, सभी स्थानों से भिन्न है।

यहां के लोग त्रिकोणीय भूसे टोपी और धोती पहनते हैं और अपने जीवन यापन के लिए मछली पकड़ने तथा बेचने का कार्य करते हैं। इसके अलावा यहां के लोग समुद्र तट के किनारे लाइफगार्ड के रूप में भी काम करते हैं। जो लोग पूरी घूमने आते हैं वह शाम के वक्त नाव पर बैठकर सूर्यास्त को देखना पसंद करते हैं।

शाम के वक्त यहां नाव की लंबी कतार देखने को मिलती है, जो बेहद खूबसूरत और रोमांचित लगता है। पूरी बीच उन सभी लोगों के लिए बेहतरीन पर्यटन स्थल है जो लोग अपने परिवार तथा मित्र के साथ घूमना पसंद करते हैं, इसके साथ ही जिन्हें शांति अत्यधिक पसंद है।

Puri Beach

Puri Beach – Golden Beach Puri

Puri Beach जिसे गोल्डन बीच के नाम से भी भारत में जाना जाता है, उड़ीसा राज्य का एक समुद्र तट है, जो बंगाल की खाड़ी पर स्थित है। यह पर्यटन स्थल तथा हिंदू पवित्र धार्मिक स्थल दोनों रूप में जाना जाता है। पुरी बीच वार्षिक महोत्सव का स्थल है जहां भारतीय पर्यटन मंत्रालय उड़ीसा के हस्तशिल्प, संस्कृति, आदि को बढ़ावा देती है।

यह स्थान अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता रेत कलाकार सुदर्शन पट्टनायक के कलाओं के लिए भी अत्यधिक प्रसिद्ध है, इस स्थान को 11 अक्टूबर 2020 को फाउंडेशन फॉर एनवायरनमेंट एजुकेशन, डेनमार्क द्वारा ब्लू फ्लैग से सम्मानित किया गया है।

यह समुद्री तट अपने सुनहरे समुद्री रंग की वजह से प्रसिद्ध है, इसके अलावा माना जाता है कि यह स्थान सबसे सुरक्षित समुद्री तट है। यहां पर कोई भी पर्यटक आ सकते हैं और यहां की सुंदरता का लाभ उठा सकते हैं, इसके अलावा आराम से हंसना भी कर सकते हैं। पूरी उन स्थानों में से है जो प्राकृतिक रोमांच तथा मोक्ष प्रदान करता है।

माना जाता है कि यहां स्नान करने से व्यक्ति को शांति प्रदान होती है, धार्मिक रूप से यह स्थान लोगों के बीच अत्यधिक प्रचलित है। यहां लोगों को एकांत तथा शांति का अनुभव होता है। इसके अलावा यह स्थान अपने पंक्तिबद्ध इतिहास के लिए भी प्रचलित है। यहां के मुख्य स्थान बौलीमाथा जहां गुरु नानक पूरी यात्रा के दौरान रुके थे लोगों के बीच प्रचलित है।

इसके अलावा यहां के मठ, भगवान जगन्नाथ, और उनके ठीक बगल में पवित्र गुरु ग्रंथ साहिब सभी प्रचलित है।

Things to do in Puri Beach

Puri Beach के समुद्र तट पर जब पर्यटक पहुंचता है तो कई सारे ऐसे कार्य है जो हुआ अपने मित्र तथा परिवार के साथ कर सकता है, जैसे कि –

  • समुद्र तट के किनारे सुबह के समय बैठकर सूर्य उदय होते हुए देखना, समुद्र की लहरों के विपरीत खड़े होना।
  • पुरी बीच पर अपने परिवार तथा मित्रों के साथ स्नान करना, (जीवन रक्षक के साथ जाएगा)
  • शाम के वक्त यहां बाजार लगती है, अपने मित्र तथा परिवार के साथ यहां की लोकप्रिय वस्तुओं को खरीद सकते हैं।
  • शाम के समय ऊंट की सवारी तथा घोड़े की सवारी कर सकते हैं।
  • सड़क के किनारे लगे स्टाल से यहां के लोकप्रिय भोजन का आनंद ले सकते हैं।
  • कलाकृतियों को दर्शाती हुई समुद्र के किनारे कई सारे कपड़े की दुकान है जहां से कपड़े खरीदे जा सकते हैं।
  • यहां कई सारे वाटर पार्क है जहां अपने दोस्तों तथा परिवारों के साथ कई विभिन्न प्रकार के खेल खेले जा सकते हैं।

Puri Beach Hotels/Puri Beach Resort

Puri Beach में यात्रियों के ठहरने के लिए विभिन्न प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है, यहां मुख्य रूप से होटल तथा रिजॉर्ट पर्यटकों को मुहैया कराई जाती हैं। यहां आधुनिक स्विस टेंट, सरकारी होटल, तथा फाइव स्टार होटल उपलब्ध है।

नीचे दिए गए होटल तथा रिजॉर्ट प्रचलित है जहां पर्यटक अत्यधिक रुकना पसंद करते हैं।

  • Eco Retreat Konark – जिन लोगों को लग्जरी होटल में रुकना पसंद है, और सभी मुख्य सुविधाएं चाहिए वह Eco Retreat Konark मैं ठहर सकते हैं।
  • Eco Retreat Satkosia – सस्ते तथा अच्छी सुविधाओं के साथ Eco Retreat Satkosia यात्रियों के ठहरने की सुविधा प्रदान करती है।
  • Eco Retreat Bhitarkanika – अच्छे सुविधाओं और दृश्य के मामले में Eco Retreat Bhitarkanika यात्रियों को अच्छी सर्विस प्रदान करती है।
Puri Beach

Puri Beach Timing and Entry Fees

Puri Beach में आए लोगों के लिए यह जानना अत्यधिक आवश्यक है कि यहां प्रवेश करने के लिए उचित समय क्या है और प्रवेश करने के लिए फीस देना आवश्यक होता है या नहीं।

पुरी बीच में प्रवेश करने के लिए उचित समय सुबह 5:00 बजे से लेकर रात के 10:00 बजे तक होता है, इसके साथ ही यहां प्रवेश करने के लिए किसी भी प्रकार की कोई फीस देने की जरूरत नहीं होती है। इसके अलावा यहां यात्रियों के वाहन को पार्क करने के लिए पार्किंग अस्थान भी मुहैया कराई जाती है।

यात्रियों के लिए यहां कई सारे बैंक तथा एटीएम उपलब्ध है जिसकी सहायता से वह अपनी जमा की हुई धनराशि को निकाल सकते हैं और अपने खर्च में इस्तेमाल कर सकते हैं।

बरसात के मौसम में यहां पर्यटक अधिक मात्रा में आते हैं क्योंकि या उचित समय होता है यहां के प्राकृतिक सुंदरता को लिखने के लिए। इसके अलावा यहां हर तरह के दुकानें भी देखने को मिलती है जिनकी सहायता से पर्यटक तथा वहां रहने वाले सभी नागरिक अपनी जरूरतों को पूरी करते हैं।

How to Reach Golden Beach Puri

पुरी बीच पर पहुंचने के लिए कई विभिन्न प्रकार के साधन उपलब्ध है, मुख्य रूप से ट्रेन तथा गाड़ियां उपलब्ध होती है। भुवनेश्वर एयरपोर्ट से गोल्डन बीच पुरी 62 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, इसके अलावा रोड ट्रांसपोर्ट भी उपलब्ध है, भुवनेश्वर एयरपोर्ट के माध्यम से यहां आसानी से पहुंचा जा सकता है।

बस और रोड ट्रांसपोर्ट के माध्यम से भी यहां आसानी से आया जा सकता है, बस सर्विसेज वेस्ट बंगाल तथा आसपास के राज्यों से जुड़ी हुई है। पूरी रेलवे स्टेशन से पुरी बीच 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

Puri Beach

Puri Beach Festival

Puri Beach पर साल में एक बार वार्षिक पर्व मनाया जाता है, जो नवंबर के महीने में आयोजित की जाती है जिसमें यहां की संस्कृति तथा उड़ीसा राज्य के सभी विरासत को प्रदर्शित किया जाता है। यह त्यौहार होटल और रेस्टोरेंट् एसोसिएशन ऑफ ओडिशा के द्वारा आयोजित किया जाता है।

इस त्यौहार में क्षेत्रीय संस्कृति, लोक नृत्य, हस्तशिल्प, रेत कला, मुख्य रूप से दिखाया जाता है। मुख्य रूप से यहां रेत कलाकारों को सम्मानित किया जाता है। इसके अलावा यहां के शो में फैशन शो का आयोजन भी किया जाता है, और रॉक शो को भी बढ़ावा दिया जाता है।

यहां आए सभी लोग इन त्यौहारों को बड़े ही उत्साह के साथ मनाते हैं, साथ ही यहां कई विभिन्न प्रकार के खेल भी देखने को मिलते हैं। बीच पर वॉलीबॉल, कबड्डी, नौका दौड़, मलखम, जैसे खेल का आयोजन किया जाता है।

India Essay in HindiCricket Essay in Hindi
Sports Essay in HindiPuri Beach

Conclusion

गोल्डन पुरी बीच धार्मिक रूप से तथा प्राकृतिक रूप से लोगों के लिए महत्वपूर्ण स्थान है, यहां लाखों की आबादी में हर साल लोग पर्यटक बनकर आते हैं, इस वजह से यह स्थान लोगों के लिए महत्वपूर्ण बन जाता है। यहां आने पर लोगों को शांति की अनुभूति होती है, इसके अलावा यहां की प्राकृतिक सुंदरता सबसे भिन्न है। प्रत्येक व्यक्ति को पूरी बीच पर जाना चाहिए।

Puri Beach पर समय बिताते वक्त सभी व्यक्ति को ध्यान रखना चाहिए कि यहां किसी भी प्रकार की कोई गंदगी ना करें, और सभी पर्यटक स्थल पर अवश्य जाएं। इसके अलावा यहां की संस्कृति तथा कला को विश्व भर में फेलाय।

oosoo
oosoo.co.in एक हिन्दी एजुकेशनल वेबसाईट है, इसके फाउन्डर और इसपे आर्टिकल बिकाश शाह लिखते है। बिकाश शाह एक ब्लॉगर है जो पिछले 3 सालों से इंटरनेट पर आर्टिकल लिखते आ रहे है। अभी ये अरुणाचल प्रदेश मे रहते है, साथ ही ये यूट्यूब पर विडिओ भी बनाना पसंद करते है। अगर आपको इसके बारे मे अधिक जानकारी चाहिए तो आप इनसे कान्टैक्ट कर सकते है। सोशल मीडिया का लिंक आपको about मे मिल जाएगा। इस वेबसाईट के आर्टिकल को पढ़ने के लिए आपका सुक्रिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *