My Hobby Essay in Hindi

My Hobby Essay in Hindi – रुचि का अर्थ होता है अपने खाली समय में अपने पसंद के किए गए कार्य को करना, जिस कार्य को करने पर व्यक्ति को अच्छा महसूस होता है, व्यक्ति को शांति महसूस होती है और अंदर से खुशी की अनुभूति होती है। खाली समय में किए गए गतिविधियों को रुचि कहा जाता है इसका उद्देश्य मनोरंजन, खुशी, और समय का सदुपयोग करना है। जिसके माध्यम से व्यक्ति अपने जीवन में उल्लास अनुभूति करता है।

किसी को चित्र बनाना पसंद है तो किसी को खाना बनाना, कोई मूर्तिकला में माहिर है, तो किसी को किताबें पढ़ना पसंद होता है। मैंने बहुत सारे लोग देखे हैं जो अपने खाली समय पर अलग-अलग प्रकार के कार्य को करते हैं जैसे कि, संगीत सुनना, खाना बनाना, घूमना, चित्रकला, बागवानी, मछली पकड़ना आदि।

यह सारे कार्य हैं जो व्यक्ति अपने खाली समय पर अपने सुख और आनंद के लिए करता है, अपने रुचि के कार्य को करने में व्यक्ति को खुशी महसूस होती है, इससे व्यक्ति का तनाव कम होता है और कुछ नया सीखने को मिलता है।

मेरे आस-पास कई सारे ऐसे लोग हैं जो अपने रूचि का कार्य अक्सर करते हैं, जब भी उन्हें खाली समय मिलता है तो वह अपने रूचि को पूरा करने के लिए निकल पड़ते हैं कोई मछली पकड़ने नदियों पहाड़ों पर चला जाता है तो कोई अपने घर पर ही बैठ कर दिन भर टेलीविजन देखता है।

मेरे कुछ दोस्त हैं जो दिन भर किताबें पढ़ते हैं, उनसे पूछो तो कहते हैं कि उनका रुचि किताबों पढ़ने में इससे उनकी ज्ञान बढ़ती है और उन्हें तरह-तरह के आइडिया आते हैं। इसीलिए प्रत्येक व्यक्ति के लिए रुचि के लिए समय निकालना आवश्यक जरूरी है।

My Hobby Essay in Hindi

My Hobby Essay in Hindi – मेरी रुचि

मुझे तरह-तरह के किताबें पढ़ना बहुत पसंद है, किताबें पढ़ने से मुझे हर समस्या परेशानी का हल मिल जाता है, जब भी मैं खाली होता हूं तो मैं तरह-तरह के किताबों को पढ़ना पसंद करता हूं। मुझे लगता है कि ज्ञान संसार में सबसे अनमोल है, चाहे किसी भी व्यक्ति के पास कितना भी दौलत संपत्ति क्यों ना हो मगर उसके पास अगर ज्ञान नहीं है तो वह गरीब है।

किताबें पढ़ने से मुझे अच्छे विचार आते हैं, मन शांत रहता है, इसके अलावा तरह-तरह के ज्ञान मुझे मिलती है। संसार की सभी समस्याओं का हल किताबों के माध्यम से किया जा सकता है, किताब एक ऐसा हथियार हैं जो किसी भी व्यक्ति को पत्थर से सोना बना सकता है।

जब भी मैं अकेला होता हूं या मेरे पास खाली समय होता है तब मैं किताबें पढ़ता हूं, कुछ लोगों को किताबें पढ़ने का शौक होता है और कुछ लोग जन्म से ही ऐसे बने होते हैं कि वह किताब पढ़े बिना रह नहीं सकता। महान से महान व्यक्तियों ने भी कहा है कि अगर जीवन सफल होना है तो किताबों का होना आवश्यक जरूरी है। मगर मैं किताबें पढ़ता हूं क्योंकि मुझे किताबें पढ़ने का शौक है मेरी रुचि किताबों से ज्ञान प्राप्त करने में है।

मेरी रुचि 2

मेरा सबसे पसंदीदा शौक टीवी देखना है, टीवी देखने से मुझे खुशी महसूस होती है, टीवी पर में विभिन्न प्रकार के शो देखता हूं, जिसने मेरा सबसे पसंदीदा शो नेशनल जियोग्राफी और डिस्कवरी देखना है। जब मैं जानवरों को टीवी पर देता हूं तो मुझे अच्छा महसूस होता है मुझे खुशी महसूस होती है।

मैं अभी एक छात्र हूं पर और मुझे टीवी देखना पसंद है, मगर ऐसा नहीं है कि टीवी देखने से मेरे पढ़ाई पर असर पड़ता है, जब भी मेरे पास समय होता है तब मैं टीवी देख लेता हूं। घर के सारे कार्य करने के बाद जब मेरे पास खाली समय होता है तो मैं टीवी देखने के लिए घर के सोफे पर बैठ जाता हूं और टीवी चालू कर देता हूं। कभी-कभी मुझे कार्टून देखना भी पसंद है।

मेरे इस कार्य से मेरे पढ़ाई तथा मेरे अन्य जीवन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता, मुझे अक्षर टीवी से कुछ ना कुछ सीखने को मिलता है, लोग कहते हैं कि टीवी देखना समय की बर्बादी है मगर मेरा मानना है यह व्यक्ति पर निर्भर करता है कि वह टीवी कितने समय देखता है और टीवी पर क्या देखता है। टीवी विभिन्न प्रकार की ज्ञान व्यक्ति को प्रदान करता है, न्यूज़, अर्थशास्त्र, इतिहास, संस्कृति आदि सभी के बारे में विस्तार रूप से व्यक्ति को बताता है।

इसीलिए प्रत्येक व्यक्ति को कुछ ना कुछ समय अपने जीवन का निकालना चाहिए ताकि वह टीवी पर आने वाले अच्छे शो को देख सकें, टीवी का उद्देश्य ज्ञान प्राप्त करना है, कभी-कभी यह मुझे एंटरटेन करने का कार्य करता है। लोगों को जागरूक करने का कार्य टीवी के माध्यम से अधिक होता है।

मेरी रुचि 3

मुझे बागवानी करना बहुत पसंद है, जब भी मेरे पास खाली समय होता है तुम्हें अपने घर के पीछे बाग में अपना समय बताता हूं, मैं पौधों को पानी देता हूं उनकी देखभाल करता हूं, इस कार्य से मुझे शांति और खुशी महसूस होती है।

मुझे लगता है कि बागवानी करने से प्राकृतिक सभी समस्याओं को सुलझाया जा सकता है, इसीलिए मैं ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाता हूं ताकि शुद्ध हवा मेरे जीवन में खुशहाली भर दे। जब भी मैं अपना कार्य करता हूं तो मुझे तंदुरुस्ती महसूस होती है, मेरे लिए बागवानी एक व्यायाम की तरह जो रोज करना जरूरी है जिससे जीवन स्वस्थ और तंदुरुस्त रहता है।

मुझे बागों में बैठना पसंद है, और उन पर उड़ते हुए पक्षियों और तीरों को देखना भी पसंद है, बाबू की सुगंध मेरे एहसास को तरोताजा कर देती है मेरा मस्तिष्क और शरीर स्वस्थ होने लगता है। मुझे भागो को सजाना और फूल लगाना काफी पसंद है।

मेरी रुचि 4

मेरी रुचि खाना बनाना है, जब भी मैं अकेला होता हूं या मेरे पास खाली समय होता है तब मैं अपने समय का उपयोग खाना बनाने के लिए करता हूं। मुझे अलग-अलग तरह के खाना बनाना पसंद है और लोगों को खिलाना पसंद है। इस कार्य से मुझे खुशी महसूस होती है।

मुझे लगता है कि खाना बनाने और खिलाने से अंतर शांति मिलती है, मेरी इस रूचि के कारण मुझे अलग-अलग तरह के खाना बनाना आता है, देश-विदेश के विभिन्न प्रकार के डिसेश में आसानी से बना देता हूं, स्वादिष्ट खाना बनाना और लोगों को खिलाना अपने आप में ही एक के मनोरंजन का कार्य। जब भी मौका मिलता है तब अपने किचन में खाना बनाने के लिए चला जाता हूं।

Conclusion

हर व्यक्ति को कुछ ना कुछ शौक होता है उसकी रूचि होती है जो वह अपने खाली समय पर करता है। इस व्यक्ति को तरोताजा महसूस होती है, स्वास्थ्य में सुधार आता है, यह हमें आगे बढ़ने में मदद करती है। किसी भी कार्य को दिल से करने से उसमें सफल होने का अधिक मौका होता है, रुचि को मन से करने से व्यक्ति का मस्तिष्क और शारीरिक शक्ति बढ़ती है।

यही कारण है कि व्यक्ति अपने कार्य में प्रबल होता है और ऊंचाइयों तक पहुंचता है, सफलता का कारण रुचि को कहा जा सकता है, प्रत्येक व्यक्ति का कुछ ना कुछ शौक होता है जो उसे खुशी महसूस कराती हैं। किसी को पतंगबाजी करना पसंद है तो किसी को पेड़ लगाना, कोई अपने खाली समय पर फिल्म देखता है तो कोई गाने सुनता है। प्रतिदिन कुछ समय अपने कार्य के लिए निकालने से व्यक्ति का कार्यशैली प्रखर होता है और उसके कार्य में उपलब्धि आती है।

अच्छे शौक होने से व्यक्ति के जीवन में बदलाव देखने को मिलता है, शोक के कारण व्यक्ति अपने जीवन में हर कठिनाइयों और समस्याओं से आसानी से सामना कर लेता है, रुचि एक ऐसी गतिविधि है जिसके कारण व्यक्ति पसंद है।

Read more –

My Hobby Essay in EnglishMusic Essay in Hindi
Lord Rama essay in HindiMoney essay in Hindi

Leave a Reply