Money Essay in Hindi – जीवन का आधार धन को कहा जा सकता है, क्योंकि बिना धन के किसी भी व्यक्ति का जीवन की कल्पना कर पाना मुश्किल है, आज के समय छोटी सी छोटी चीज के लिए भी व्यक्ति को धन की जरूरत पड़ती है। बिना धन के आज के समय सुई तक व्यक्ति को नहीं मिल सकती। दैनिक जीवन का सभी आधार को पूर्ण करने के लिए धन की आवश्यकता प्रत्येक व्यक्ति को करती है।

धन की तुलना हम किसी भी अन्य वस्तु से नहीं कर सकते क्योंकि धन का मूल्य और विशेषता विभिन्न है। एक स्वस्थ और खुशहाल जीवन के लिए है धन्य मूल्य भूमिका निभाता है। इसीलिए धन का महत्व इस संसार में सबसे अधिक है। कुछ लोग कहते हैं कि धन प्यार और दोस्ती से बढ़कर है, क्योंकि जब तक व्यक्ति के पास धन ना हो तब तक प्यार और दोस्ती आ नहीं सकता।

सभी आधारभूत आवश्यकता को पूर्ण करने के लिए धन की जरूरत प्रत्येक दिन व्यक्ति को पड़ती है, बिना धन के कोई व्यक्ति अपने जीवन की कल्पना तक नहीं कर सकता क्योंकि बिना धन के इस संसार में कुछ भी हासिल कर पाना असंभव है। अगर किसी व्यक्ति के पास अगर धन नहीं है उसे विभिन्न प्रकार के गलत रास्तों का सहारा लेना पड़ता है अपनी सभी मूल्य जरूरतों को पूरा करने के लिए।

सभी अमूल्य वस्तु को पाने के लिए या एक सुखद जीवन व्यतीत करने के लिए व्यक्ति के पास धन का होना आवश्यक जरूरी है। एक समय था जब विनिमय प्रणाली के माध्यम से लोग अपनी जरूरतों को पूरा करते थे, किसी व्यक्ति के पास अगर कुछ है तो उस व्यक्ति को दे देता है जो उसके पास नहीं है और उससे वह वस्तु ले लेता है जो उसके पास नहीं है। मगर आज के समय छोटी से छोटी चीज को हासिल करने के लिए भी धन की आवश्यकता पड़ती है।

बदलते युग में धन का आकार बदल गया है, एक समय था जब धन का रूप सोने चांदी के रूप में था, सोने चांदी के मदद से लोग एक वस्तु को खरीदते तथा बेचते थे, मगर वही आज के समय कागज के नोट धन का रूप ले चुके हैं, और अब प्लास्टिक से बने हुए एटीएम कार्ड और डेबिट कार्ड धन का रूप ले रहे हैं। धन का रूप चाहे जो भी हो लेकिन धन का महत्व इस संसार से कभी खत्म नहीं हो सकता।

Money Essay in Hindi

Money Essay in Hindi

आज के समय छोटे से छोटे चीज के लिए भी हमें इंजन की जरूरत पड़ती है, एक कपड़ा खरीदना हो या कुछ खाना हो, या फिर कहीं रह ना हो सरकारी के लिए पैसे की जरूरत पड़ती है। कुछ लोगों का मानना है कि धन व्यक्ति को खुश नहीं रख सकता मगर धन के बिना व्यक्ति खुश रह सकता है? यह सवाल प्रत्येक व्यक्ति के लिए है मगर इसका जवाब है बहुत कठिन है जब हमें प्यार की जरूरत होती है तो वहां धन की आवश्यकता नहीं होती, मगर जब धन की जरूरत होती है तो क्या प्यार से उसे पूरा किया जा सकता है?

धन का महत्व दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है प्रत्येक व्यक्ति धन की लालसा में अपना सुख अपना समय बर्बाद किए जा रहा है। बढ़ते इस महंगाई के जमाने में प्रत्येक व्यक्ति को अधिक से अधिक धन चाहिए ताकि वह अपने जीवन को आसान बना सकें, उन सभी वस्तुओं को पा सके जिसकी उसे लालसा है।

पूरी जीवन पैसे, धन को संग्रह करने में व्यक्ति का खत्म हो जाता है मगर जन्म से लेकर मरने तक धन की जरूरत कभी खत्म नहीं होती, शायद यही कारण है जिसकी वजह से धन हमारे समाज में इतना महत्वपूर्ण है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि धन किसी भी व्यक्ति का जीवन आसान बना सकती है, किसी भी व्यक्ति को उसके सभी मनपसंद चीजों को पाने में मदद कर सकती है।

आज के समय बिना धन के कोई भी व्यक्ति जीवित नहीं रह सकता, सभी आधारभूत वस्तुओं को खरीदने के लिए धन की आवश्यकता प्रत्येक व्यक्ति को करती है, बिना धन के व्यक्ति कई ऐसे कार्य करता है जो समाज के लिए हानिकारक है। धन की अभिलाषा में लोग अपने परिवार वालों तक को भूल जाते हैं। धन ऐसा वस्तु है जो परिवारों में दरार पैदा कर देते हैं, भाई भाई का नहीं रहता हूं, बाप बेटी का रिश्ता खत्म कर देता है।

इतिहास में ऐसे कई सारे साम्राज्य देखने को मिलते हैं जो धन के अभाव में नष्ट हो गए, ऐसे में किसी व्यक्ति का धन के अभाव में बर्बाद हो जाना आम बात है।

धन की मदद से किसी भी व्यक्ति का अस्तित्व समाज में नापा जाता है, अगर किसी व्यक्ति के पास अधिक से अधिक धन है तू उसे समाज में ऊंचा स्थान दिया जाता है उसके प्रशंसा की जाती है। मगर वही अगर किसी व्यक्ति के पास धन नहीं है तो उसे हिन नजरों से देखा जाता है उसका सम्मान नहीं किया जाता।

व्यक्ति के जीवन में धन ही एकमात्र ऐसी वस्तु है जिसका मूल्य पूरे जीवन कम नहीं होता। इसी वजह से धन की मूल्य व्यक्तियों में दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। अच्छी नौकरी, अच्छा व्यापार, करने के लिए लोग एक दूसरे को चोट पहुंचा रहे हैं। लोगों में दौड़ लगी हुई है कि कौन कितना पैसा धन जमा कर सकता है।

Importance of Money Essay in Hindi

बिना धन के किसी भी व्यक्ति की मृत्यु आसानी से हो सकती है, धन्य कैसा वस्तु है जो व्यक्ति के जीवन को बनाए रखने के लिए जरूरी है। सभी कष्टों, तकलीफ और सभी समस्याओं से व्यक्ति को छुटकारा धन के माध्यम से आसानी से मिल जाता है। प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन में धन की जरूरत पड़ती है।

इस संसार में बिना धन के किसी भी व्यक्ति का कोई मूल्य नहीं है, अच्छी शिक्षा प्राप्त करना हो या अच्छा जीवन वेतीत करना धन की जरूरत पड़ती है। परिवार की आवश्यकता को पूरा करने के लिए, बच्चों की पढ़ाई के लिए, नए कपड़े, खानपान, 25 शिक्षा, आदि कार्यों के लिए धन की आवश्यकता पड़ती है। इसीलिए धन का महत्व संसार में सबसे अधिक है।

Benefits of Money in Hindi

  • एक समान पूर्ण जीवन जीने के लिए व्यक्ति को धन की जरूरत होती है, आज के समय जिस व्यक्ति के पास अधिक से अधिक धन है उसका संसार में आत्मसम्मान और नाम सर्वाधिक है, जिस व्यक्ति के पास धन नहीं है उसका सम्मान नहीं किया जाता।
  • धन के अभाव में व्यक्ति अच्छा भोजन नहीं कर सकता, रूखी सूखी रोटी खाने के अलावा उसके पास कोई दूसरा विकल्प नहीं होता मगर वही जिन व्यक्ति के पास अधिक से अधिक धन है वह अधिक से अधिक अच्छा भोजन खा सकते हैं।
  • जिन व्यक्तियों के पास धन नहीं होती वह अपना सुरक्षा तक नहीं कर पाते, मगर वही जिनके पास अधिक धन है वह अपना सुरक्षा आसानी से कर पाते हैं, कई सारे लोग उनके सेवाएं करते हैं उनकी जरूरत के सभी वस्तुओं को हम तक पहुंचाते हैं।
  • रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल किए जाने वाले सभी वस्तुओं का इस्तेमाल एक धनवान व्यक्ति ही कर सकता है मगर वही एक गरीब व्यक्ति जिसके पास धन नहीं है उसे अपनी रोजमर्रा की जिंदगी के वस्तु के लिए संघर्ष करना पड़ता है।
  • अच्छे शिक्षा जीवन शैली को प्राप्त करने के लिए धन का होना अत्यधिक जरूरी है।

Conclusion

प्रत्येक व्यक्ति के लिए धन का महत्व उसके जीवन में सबसे अधिक है बिना धन के कोई व्यक्ति अपने जीवन की कल्पना तक नहीं कर सकता, हर एक चीज के लिए धन की आवश्यकता पड़ती है। संसार में आत्मसम्मान से जीने के लिए और अपनी सभी मूलभूत वस्तु को पाने के लिए धन की आवश्यकता होती है।

हर क्षेत्र में, धन की भूमिका सबसे अधिक है। छोटी सी छोटी चीज को पाने के लिए व्यक्ति को धन की आवश्यकता पड़ती है, केवल धन ही एकमात्र ऐसा साधन है जो व्यक्ति को कुछ और स्वस्थ रख सकता है।

मगर फिर भी धन के माध्यम से प्रत्येक वस्तुओं को खरीदा नहीं जा सकता, हम समय और प्यार को धन से नहीं करते मगर धन जीवन को सुखद बनाता है, कहा जाता है कि जिसके पास धन नहीं वह व्यक्ति, व्यक्ति नहीं। आत्मविश्वास, संतुष्टि, शारीरिक तथा मानसिक शांति सभी के लिए धन का होना जरूरी है।

Read more –

Money essay in EnglishMy Hobby essay in Hindi
Agriculture Essay HindiBank Essay in Hindi
How I Spent my Summer Vacation in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Post